होली खेलत नन्दलाल बिरज में।।

0
388
Holi Khelat Nandlal
Holi Khelat Nandlal

होली खेलत नन्दलाल बिरज में।। Holi Khelat Nandlal.

मित्रों, आज होली का परम पवित्र त्यौहार है, आप सभी सनातनी बंधुओं को श्री त्रिदंडी देव सेवाश्रम संस्थान, सिलवासा एवं स्वामी धनञ्जय महाराज की ओर से होली की हार्दिक शुभकामनायें एवं अनंत-अनंत बधाईयाँ।।

आप सभी के जीवन में इस होली के बाद नई उमंग एवं नये उत्साह का संचार हो, तथा आपका उन्नति का मार्ग प्रशस्त हो। सपरिवार आपके जीवन में नई खुशियों का रंग घुले।।

होली खेलत नन्दलाल,
बिरज में होली खेलत नन्दलाल॥

ग्वाल बाल संग रास रचावै,
नटखट नन्द गोपाल॥
होली खेलत नन्दलाल,
बिरज में होली खेलत नन्दलाल॥

बाजत ढ़ोलक झांझ मंजीरा,
गावत सब मिल आज कबीरा।
नाचत दे दे ताल,
बिरज में होली खेलत नन्दलाल॥

होली खेलत नन्दलाल,
बिरज में होली खेलत नन्दलाल॥

भर भर मारे रंग पिचकारी,
रंग गए ब्रज के नर-नारी।
उड़त अबीर गुलाल,
बिरज में होली खेलत नन्दलाल॥

होली खेलत नन्दलाल,
बिरज में होली खेलत नन्दलाल॥

ऐसी होली खेली कन्हाई,
जमुना तट पर धूम मचाई।
रास रचाये नन्दलाल,
बिरज में होली खेलत नन्दलाल॥

होली खेलत नन्दलाल,
बिरज में होली खेलत नन्दलाल॥

।। नारायण सभी का कल्याण करें ।।

Sansthanam: Swami Ji: Swami Ji Blog: Sansthanam Blog: facebook Page.

जयतु संस्कृतम् जयतु भारतम्।।

जय जय श्री राधे।।
जय श्रीमन्नारायण।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here