मुश्किल है सहन करना यह दर्द जुदाई का।।

0
88
ye dard judai ka

मुश्किल है सहन करना यह दर्द जुदाई का।। mushkil hai sahan karna ye dard judai ka.

मुश्किल है सहन करना यह दर्द जुदाई का ।
मुझे इतना बता प्यारे कारन रुसवाई का ।।
झूठे तेरे वादों पे इतबार किया हमने,
तेरी कृपा को सुन करके अरे प्यार किया हमने ।।
क्या यही सिला मिलता तेरी प्रीत लगाई का,
मुझे इतना बता प्यारे कारण रुसवाई का ।।
मुश्किल है सहन करना……….
अगर नजर में अवगुण थे तो क्यों अपनाया था,
जे प्रीत न निब सकती पहले न बताया था ।।
मौका तो दिया होता मेरे मीत सफाई का,
मुझे इतना बता प्यारे कारण रुसवाई का ।।
मुश्किल है सहन करना……….
ye dard judai ka

 

कृपा की ना होती जो आदत तुम्हारी,
तो सुनी ही रहती अदालत तुम्हारी ।।
ना हम होते मुल्जिम, ना तुम होते हाकिम,
ना घर घर में होती इबादत तुम्हारी ।।
झूठे तेरे वादों पे एतवार किया हमने,
तेरी किरपा को सुन कर ही अरे प्यार किया हमने ।।
क्या यही सिला मिलता एक प्रीत लगाई का,
मुझे इतना बता प्यारे कारण रुसवाई का ।।
मुश्किल है सहन करना……….
तुम सा कोई मिल जाता तो ढूंढ़ लिए होते ।।
क्यों प्यार तुम्हे करते क्यों तेरे लिए रोते ।।
तुम सा कोई मिल जाता तो ढूंढ़ लिए होते,
क्यों प्यार तुम्हे करते क्यों तेरे लिए रोते ।।
मुख मोड़ के क्यों बेठे क्या मान खुदाई का,
मुझे इतना बता प्यारे कारन रुसवाई का ।।
मुश्किल है सहन करना यह दर्द जुदाई का..
ye dard judai ka

 

क्योंकि प्यारे ! आपके बिना हमारा कोई आस्तित्व ही नहीं बचता ।।

 

 

जय जय श्री राधे ।।
जय श्रीमन्नारायण ।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here